दो शख्स ने केवल 15 हजार में कंपनी बनाके इसे मात्र 1.25 करोड़ में बेचा दिया

DimeADozen Success Story : इन दो दोस्तों ने जहां पर मात्र केवल 15 हजार रुपये ही खर्च किए थे, वहां इन्होंने अपने इसी बिजनेस को लगभग सवा (1.25) करोड़ रुपयों में बेचा दिया. अगर आप में से कोई भी इस कहानी के बारें में सुनेंगे, तो आप पूरी तरह से बिलकुल आश्चर्यचकित ही हो जाएंगे की आखिर कैसे इन दो दोस्तों ने मात्र केवल सिर्फ 15 हजार रुपयों के आधार पर किस तरह से इसको सवा करोड़ रुपयों में तबदील कर दिया।

हमारा आज का यह जमाना पूरी तरह से आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence) यानी एआई (AI) का हो चूका हुआ है. इसी के बारें में मध्य नज़र रखते हुए इन दो दोस्तों ने आज के समय में आई हुई एक ऐसी नए तकनीक ChatGPT को बहुत ही अच्छी तरह से इस्तेमााल करके एक ऐसा ही बेहतरीन बिजनेस (Business) को खड़ा करने में बिलकुल पूरी तरह से कामयाब हो गए है.

DimeADozen Success Story

अपने स्टार्टअप (Business) को कैसे और किस तरह से शुरू किया :

सैल्वाटोर (सैल) ऐलो (Salvatore Aiello) और मोनिका पॉवर (Monica Powers) ये दोनों जो एक दूसरे के बहुत ही अच्छे दोस्त हैं, केवल सिर्फ ChatGPT की सहायता लेकर इन्होनें यहां पर अपना एक बेहतरीन स्टार्टअप बना दिया है. इसी स्टार्टअप को शुरू करने के लिए इन दोनो दोस्तों ने शुरुआत में मात्र 185 डॉलर यानी के लगभग तकरीबन 15 हजार रुपयों खर्च कर दिए थे. इन दोनों दोस्तों ने अपने शुरू किए हुए इस नए स्टार्टअप में एआई (AI) जिसे हम आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence) के रूप में जानते है, इन्होंने इसे इस तरह से जो इस्तेमाल कर दिया कि इसको बनाने पर मात्र सिर्फ कहीं महीनों में किसी एक ऐसे बिजनेसमैन ने उसे तकरीबन 1.5 लाख डॉलर मतलब लगभग सवा करोड़ रुपयों में पूरी तरह से खरीद भी ले लिया.

ChatGPT ने कैसे बदल दी इनकी किस्मत:

इन दोनों दोस्तों ने अपने इसी वर्चुअल स्टार्टअप की इन आइडियाज को इन्होंने सिलिकॉन वैली के एक ऐसे ही स्टार्टअप एक्सीलेरेटर Y Combinator की बदौलत से इसकी शुरुआत कर दी. इन्होंने अपने इसी स्टार्टअप की कई बहुत सारे समस्याहों की हलों को सुलझाने के लिए बनाया हुआ है की इस ChatGPT के साथ किस तरह से सही सवाल कर सके. वहीं पर दोनों दोस्तों ने साथ में मिलके यह एआई के आधार द्वारा इन्होंने एक ऐसा रिसर्च टूल भी बना दिया है, कि जिसके मदद से यह लोगों की हर एक आइडियास को बहुत ही बेहतरीन तरीके से पूरी तरह इसे बिलकुल सही फॉर्मेट में बदल देता है और इसके अलावा इस ChatGPT का बहुत ही सही तरह से इसका अच्छा इस्तेमाल करने के कुछ तरीके भी सिखा रहा है.

DimeADozen ऐप किस तरह से करता है काम?

DimeADozen Success Story यह दो दोस्त सैल और मोनिका, इन्होंने DimeADozen के नाम से, एक बढ़िया सा बिजनेस ऐप भी बना दिया है. DimeADozen के नाम का यह ऐप बहुत ही काफी सारे नए बिजनेस आइडियाज को अच्छी तरह से एनालिसिस भी कर देता है और इसके अलावा यह ऐप इसकी अच्छे तरीके से सफल होने वाली रिपोर्ट के साथ साथ वो इसका पूरी तरह से ब्लूप्रिंट भी तैयार कर देता है. तकरीबन इसके लिए मात्र सिर्फ 39 डॉलर याने की लगभग 3200 रुपये तक का खर्च होने की संभावना है. लेकिन अगर हम यही बहुत सारे काम करने वाले पारंपरिक एजेंसियों और सर्च इंजिनों के बारें में देखा जाए तो इसकी तुलना में इस ऐप से बहुत ही तेजी से नतीजे आते रहते हैं.

केवल 7 महीनों में कैसे कमाए 55 लाख रुपये :

ऐलो और मोनिका को इस ऐप के जरिए बहुत ही ज्यादा मजबूत कमाई भी कर रहे थे. इनके इसी शानदार स्टार्टअप ने मात्र केवल 7 महीनों के भीतर ही तकरीबन 66 हजार डॉलर याने की लगभग 55 लाख रुपयों का अच्छा खासा बेहतरीन रेवेन्यू भी बना लिया था. लेकिन हम यदि इसके खर्चे के बारें में बात करें तो इसका यह कुल खर्च तकरीबन 150 डॉलर याने की लगभग 12 हजार रुपयों तक का खर्चा सिर्फ यह वेब डोमेन लेने में हो गया था. इसी तरह से सिर्फ डेटाबेस पर ही तकरीबन 35 डॉलर याने की लगभग 2800 रुपयों का खर्च भी हुआ है. और अगर कुल मिलाके इसके पूरे खर्चे को देखे, तो इसका पूरा खर्च लगभग 15 हजार रुपयों तक हो चूका है.

कैसे और किस तरह से एक दिन में बेच दिया सवा करोड़ का बिजनेस :

इस स्टार्टअप ऐप के जरिए मोनिका और सैल ने बहुत ही ज्यादा से ज्यादा मुनाफा भी कमा लिया था. लेकिन इससे भी ज्यादा बेहतर असली कमाई इनकी अब हुई, जब कुछ पिछले महीने में ही एक बिजनेस कपल फेलिप एरोसिमेना और डेनियल डी कॉरनेली ने इनके इसी बिज़नेस स्टार्टअप को तकरीबन 1.5 लाख डॉलर याने की लगभग सवा करोड़ रुपयों में इसे खरीद भी लिया. इनके इसी स्टार्टअप को यह दोनों दोस्त पूरी तरह से इसे एक फुल टाइम प्रोजेक्ट के तौर पर बना देना चाहते थे. तो अब इसी प्रोजेक्ट में मात्र एडवाइजरस के तौर पर मोनिका और सैल को शामिल भी कर लिया हुआ गया है. इसीके चलते हुए अब यह दोनों दोस्त हर हफ़्तों में लगबघ 5 घंटों तक काम भी करते रहेंगे. यह दोनों दोस्त मोनिका और सैल का यह भी मानना हैं कि उनके लिए यही तकनीक एक मात्र पैसा छापने वाले मशीन के रूप में साबित हो चुकी है.

यह भी पढ़े: यह लड़की सिर्फ Review देके कमाती हैं हर हफ्ते 120 करोड़ रूपये! लेकिन कैसे?

दोस्तों अगर आपको DimeADozen Success Story अच्छी लगी हो तो जरूर अपने दोस्तों के साथ शेअर करें।

Leave a Comment