कोलेस्ट्रॉल और मोटापा घटाने में सहायक है धान के छिलके का तेल

मोटापा और कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के डर से तली चटपटी को देखकर मन मसोसकर रह जाने वाले अब धान के छिलके के तेल की वजह से मनपसंद व्यंजनों का लुफ्त उठा सकेंगे. अमेरिकन जनरल ऑफ़ क्लिनिकल नुट्रिशन में प्रकाशित एक रिपोर्ट में बताया गया है की राईस ब्रान ऑइल वयस्कों में कोलेस्ट्रॉल को कम करता है. नियंत्रित खुराक के साथ धान के तेल में बने खाद्य पदार्थो के सेवन से कुल कोलेस्ट्रॉल का स्टार विशिस्ट रूप से कम होता है.

कोलेस्ट्रॉल और मोटापा घटाने में सहायक है धान के छिलके का तेल
कोलेस्ट्रॉल और मोटापा घटाने में सहायक है धान के छिलके का तेल

इसके अलावा इस तेल के सेवन से हानिकारक एलड़ीएल कोलेस्ट्रॉल सात प्रतिशत तक घट जाता है, जबकि एचड़ीएल कोलेस्ट्रॉल में कोई परिवर्तन नहीं होता. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) के मुताबिक सैचुरेटिड फैट एसिड, पाली अनसैचुरेटिड फैटी एसिड के बिच अनुपात १:१:५:१ होना चाहिए. विशेषज्ञों का कहना है की धान का तेल डब्लूएचओ की सिफारिशों पर ही नहीं बल्कि अन्य तेलों की तुलना में भी कहीं ज्यादा खरा उतरता है. लम्बे आरसे से भारत मैं स्नैक्स को पौष्टिकता के आधार पर नहीं बल्कि स्वाद के आधार पर ही पसंद किया जाता है.

विशेषज्ञों का कहना है की हमारे स्नैक्स अधिकतर सैचुरेटिड फैट युक्त तेल में तले जाते हैं. इस प्रकार की वसा रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढाती है जो दिल के रोगों का सबसे बड़ा कारण है. यदि आप २० से ३० वर्ष के बीच हैं और तनाव भरे माहौल में काम कर रहे हैं और अस्वास्थ्यकर तेल में बने स्नैक्स भी खाने के शौकीन हैं तो चौकन्ना हो जाइए क्योंकि हो सकता है की इन सबका दंश आपका दिल चुपचाप सह रहा हो धान के तेल में बने स्नैक्स में सैचुरेटिड फैटी एसिड होता है.

Leave a Reply