Sad Shayari in Hindi

यूँ तो पहले सदमो में भी हँस लेता था मैं,
पर आज क्यों बेवजह रोने लगा हूँ मैं,
वैसे तो हमेशा से हाथ खाली ही था मेरा,
फिर आज क्यों लगा सब कुछ खोने लगा हूँ मैं।

sad shayari in hindi

दुनिया है पत्थर की जज़्बात नही समझती,
दिल में छुपी है जो बात नही समझती,
चाँद तन्हा है तारो की बारात में भी,
दर्द ये चाँद का ज़ालिम रात नही समझती।

मर कर तमन्ना जीने के किसे नही होती,
रो कर खुश होने की तमन्ना किसे नही होती,
कह तो देते हैं जी लेंगे अपनों के बिना,
लेकिन अपनों की तमन्ना किसे नही होती।

breakup shayari

हमने उनसे प्यार किया, ये मेरे प्यार की हद थी,
हमने उन पर एतवार किया, ये मेरे एतवार की हद थी,
मर कर भी खुली रही मेरी आँखे, ये मेरे इंतज़ार की हद थी।

कभी सोंचतें थे की आपके साथ अपनी ज़िन्दगी बिताएंगे,
आप के साथ रह कर हम भी मुस्कुराएंगे,
कभी सोंचतें थे मोहब्बत अपनी चाँद के पार ले जाएंगे,
लेकिन कभी ये नही सोचा था की आप हमे इस तरह रुलायेंगे।

Leave a Reply