सूखा मेवे खाने से बढ़ती है शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता

सूखे मेवों ने मौजूद पौष्टिक तत्व हमारे दिमाग और दिल के लिए बेहद जरुरी हैं. ये हमारी रोग प्रतिरोधी क्षमता को भी विकसित करते हैं, क्योंकि इनमें मोनो अनसैचुरेटेड (एमयूएफए) और पॉली अनसैचुरेटेड फैट्स के साथ ओमेगा ३ प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं.

अखरोट, पिस्ता, बादाम, अंजीर, काजू, मूंगफली, कद्दू, सूरजमुखी या अलसी का बीज प्रतिदिन एक मुट्ठी खाए तो हमें विटामिन्स, मिनरल्स और गुड फैट का भी फायदा मिलता है .

१) बादाम: बादाम में सेहतमंद फाइटो केमिकल होते हैं, जो हमारी सेहत को ठीक रखते हैं. इसमें मौजूद मुफा बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करते हैं और गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को बढ़ाते हैं. इस कोरोनरी आर्टरी डिजीज और स्ट्रोक्स से बचाव होता है.

बादाम विटामिन ई का भी अच्छा स्त्रोत होता है, जो एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है. आप बादाम का प्रयोग त्वचा और बालों पर भी कर सकते हैं. इससे किसी तरह की एलर्जी का खतरा नहीं रहता और ये ग्लूटेन रहित भी होती है.

कितना खाएं: रोजाना ५-६ बादाम (नमक रहित) खाना बेहतर होगा.

२) अखरोट: अखरोट ऊर्जा का बहुत अच्छा स्त्रोत है. इसमें मिनरल्स, विटामिन्स और एंटी ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं. एक मुट्ठी अखरोट रोज खाने से ओमेगा ३ प्रचुर मात्रा में मिलता है, कैंसर का खतरा भी दूर होता है.

अखरोट ब्लड प्रेशर कम करता है. ये मैग्नीज, कॉपर, कैल्शियम, आयरन और मैग्नेशियम के साथ विटामिन बी कॉम्प्लेक्स समूह का भी अच्छा स्त्रोत होआ है.

कितना खाएं: रोज २-३ साबुत अखरोट

सूखा मेवे खाने से बढ़ती है शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता
सूखा मेवे खाने से बढ़ती है शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता

३) बीज: कद्दू, अलसी और सूरजमुखी के बीज हमारी सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं. इनमें मैग्नेशियम, जिंक, कॉपर, फास्फोरस, सेलेनियम, विटामिन ई, विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, प्रोटीन और फाइबर जैसे ढेर सारे पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं.

बीज में पौधों में पाए जाने वाले तत्व जैसे फाइटोस्ट्रोल्स होते हैं, जो हमारी सेहत के लिए बहुत अच्छे हैं. इन बीजों को खाने के लिए पहले इन्हें सुखाएं, फिर थोड़ा घी और नमक के साथ भूनें. आप सलाद को बीज से भी सजा सकते हैं या फिर मेवों के साथ खा सकते हैं या इनका पाउडर बनाकर आटे में मिलाकर रोटियां बना सकते हैं.

कितना खाएं: २ टी स्पून

४) जरुरत से ज्यादा न खाएं: जरुरत से ज्यादा मेवे खाने से किडनी से संबंधित परेशानियां हो सकती हैं, वजन बढ़ सकता है, खून में शुगर की मात्रा बढ़ सकती है या हड्डीयों में पाए जाने वाले मिनरल्स शरीर से बाहर निकल सकते हैं. एक दिन में सभी मेवों और बीजों को मिला कर एक मुट्ठी मेवे ही खाएं.

५) वजन घटाने में कारगर मेवे: कई लोगों का मानना है कि मेवे वजन बढ़ाते हैं, पर विशेषज्ञ बताते हैं कि सही मात्रा में लिए गए मेवे आपके वजन को नियंत्रित रखते हैं. इनमें फाइबर और गुड फैट होते हैं, जो असल में ज्यादा खाने की इच्छा को दबाते हैं. ये सभी आयुवर्ग के लोगों के लिए फायदेमंद हैं.

Leave a Reply