पतला व छरहरा बदन पाना है तो इन्हें जरूर आजमाएं.

पतला छरहरा रहना सभी को पसंद है. इसके बावजूद आप जैसा चाहते हैं. वैसा रह नहीं क्योंकि हमें नहीं पता होता की हम क्या खाएं, कितना  खाएं और कितना व्यायाम करें.

सलाद – सलाद सेहत के लिए भी अच्छा होता है. इससे कई विटामिन मिलते हैं. सलाद जब भी खाएं तो चीज का प्रयोग उस पर न करें, न ही सलाद ड्रेसिंग्स डालें. साधारण सलाद ही शरीर को लाभ पहुंचाता है. खाली सलाद का सेवन भी न करें. इससे शरीर में प्रोटीन और फैटस भी काम हो जाएंगे जो शरीर को कमजोर बना देंगे.

फैट कैलोरी – फैट कैलोरी मोटापा देती हैं और प्रोटीन कैलोरी वजन कम करती हैं. इसका अर्थ फैट कैलोरी के खाद्य पदार्थों का सेवन कम से कम करें जैसे मक्खन, चीज, फूल क्रीम मिल्क, देसी घी, डालडा घी आदि. यदि आपको खाना है तो प्रोटीन कैलोरी वाले खाद्य पदार्थ ही लें. डबल दूध और उसी से  बने मिल्क प्रोडकट्स का सेवन करें. इसके अलावा सोयाबीन, राजमा, अंडे का सफ़ेद भाग बहुत काम रिफाइंड आयल में बना कर ले सकते हैं.

पतला व छरहरा बदन पाना है तो इन्हें जरूर आजमाएं.
पतला व छरहरा बदन पाना है तो इन्हें जरूर आजमाएं.

शुगर – शुगर में कार्बोहाइड्रेट्स की मात्रा अधिक होती है  इसलिए इसका सेवन भी सीमित करें. कुल्फी, आइसक्रीम, खीर, डेजर्ट्स व् कंडेस्ड मिल्क में शुगर की मात्रा अधिक होती है. इसके सेवन से वजन कम होने के स्थान पर  बढ़ना प्रारंभ हो जाएगा.फलों में भी शुगर होती है पर इनसे शरीर को फाइबर और पोटैशियम भी मिलते हैं. केला, आम, अंगूर, चीकू, लीची, खरबूजा, तरबूज, खाएं पर बहुत सिमित मात्रा में लें. मधुमेह रोगियों को तो फल बहुत ही कम  मात्रा में लेने चाहिए. पपीता, सेब भी लें तो बहुत सीमित. कभी आप अधिक मीठा खा लेते हैं. तो इसे पचाने के लिए अगले तीन दिन तक अधिक व्यायाम करें ताकि वजन बढ़ने न पाएं.

पेय पदार्थ – सॉफ्ट ड्रिंक्स, ज्यूस डिब्बा बंद ज्यूस, कोल्ड कॉफ़ी, मीठी लस्सी ये सब पेय पदार्थ शरीर को नुकसान भी पहुंचाते हैं. साथ में मोटापा भी लाते हैं. छरहरे बदन के लिए तो बस पानी या निंबू पानी ही ठीक रहते हैं. पानी हमारी पाचन क्रिया को भी दुरुस्त रखता है और इसमें कैलरीज भी विशेष नहीं होती.

प्रोटीन – हाई  प्रोटीन फूड भी न खाएं. इससे शरीर में पानी की कमी हो जाती है. प्रोटीन भी सीमित लें. व्यायाम – डाइट कंट्रोल के साथ – साथ व्यायाम करना भी अति आवश्यक है. प्रतिदिन व्यायाम के लिए ४० मिनिट अवश्य निकाले व ब्रिस्क  वॉक, स्विमिंग, जॉगिंग, योगा, एरोबिक्स में से कुछ नियमित करें.

Leave a Reply